मधुमक्खियों को कैसे खिलाएं

मधुमक्खी को खिलाने के संबंध में सुझाव – मधुमक्खियों को खिलाने के बारे में जानकारी

ज़िंदा रहने के लिए और विकसित होने के लिए मधुमक्खियों को कुछ पोषक तत्वों की जरुरत होती है। उनकी यह आवश्यकताएं पौधों के रस और पराग से पूरी होती है। लेकिन पतझड़ और विशेष रूप से सर्दियों के समय मधुमक्खियां प्राकृतिक रूप से इन आवश्यकताओं को पौधों से पूरा नहीं कर सकती हैं, इसलिए उन्हें अपने जीवन चक्र के लिए अनुकूल बनना पड़ता है: वे बसंत ऋतु (जब ज्यादा समय तक फूल निकलते हैं) में बढ़ती हैं, वे गर्मी के दौरान फूलों का पराग और रस इकट्ठा करती हैं, पतझड़ में अपनी संख्या कम करती हैं और अपनी कम संख्या के साथ सर्दियां समाप्त करती हैं और अत्यधिक मात्रा में सर्दियों की आपूर्ति अगले बसंत तक उनका जीवित रहना सुनिश्चित करती है।

मधुमक्खियां अपने खुद के प्रयोग के लिए अपने उत्पाद (शहद, मोम, प्रोपोलिस आदि) बनाती और इकट्ठा करती हैं। वे सर्दियों और उन समयों के दौरान शहद खाकर ज़िंदा रह सकती हैं जब पराग उपलब्ध नहीं होता है। वास्तव में, शहद लेते समय मधुमक्खी पालक उनके इस आपातकालीन संग्रह की चोरी करते हैं। लेकिन यदि इसे उचित मात्रा में लिया जाये तो मधुमक्खियां मनुष्यों द्वारा ली गयी मात्रा को दोबारा उत्पादित करके शहद की भरपाई कर लेंगी, और उनका आगे का जीवन चक्र आराम से चलता रहेगा। अनुकूल स्थितियों में, मधुमक्खियां वर्ष भर में लगभग 160 पाउंड (73 किग्रा) शहद बनाती हैं और 130 पाउंड (59 किग्रा) खाने के लिए प्रयोग कर सकती हैं। इस प्रकार, इसमें लगभग 30 पाउंड (14 किग्रा) ज्यादा शहद होता है, जिसे मधुमक्खी पालक ले सकते हैं।

प्राकृतिक (शहद) या संसाधित (चीनी) उत्पाद प्रदान करके, मधुमक्खियों को खिलाना, कालोनी की पोषण क्रिया में मधुमक्खी पालक का हस्तक्षेप होता है। इस हस्तक्षेप का मूल उद्देश्य सर्दियों के दौरान कालोनी की आपूर्ति की भरपाई करना (जो हम लेते हैं), और लार्वा के पालन-पोषण को सक्रिय करना होता है। हम छत्ते में नयी रानी लाने पर भी खाना डालते हैं। और अंत में, हम उन महीनों में खाना डालते हैं जब पर्याप्त मात्रा में फूल नहीं निकलते हैं (जैसे बसंत का शुरूआती समय या गर्मियों के अंत समय में)।

चीनी की चाशनी मधुमक्खियों का सबसे लोकप्रिय भोजन है। मधुमक्खी पालक कभी भी भूरी चीनी या अतिरिक्त पदार्थों के साथ चीनी का प्रयोग नहीं करते हैं, क्योंकि उनकी वजह से पेचिश हो सकता है। 1/1 (1 भाग दानेदार चीनी और 1 भाग पानी) के अनुपात में पतला चीनी का घोल लार्वा के पोषण के लिए सबसे अच्छा होता है। कई मधुमक्खी पालक 7-9 औंस (200-250 ग्राम) की दैनिक खुराक के साथ, 10 दिन के लिए पतली चीनी की चाशनी खिलाना शुरू करते हैं। यह खुराक शुरूआती होती है और मधुमक्खी पालकों को करीब से निरीक्षण और निरंतर शोधन करते रहना चाहिए। चाशनी बनाते समय पानी उबालने की जरुरत नहीं होती है, आप इसे 120-140 फॉरेनहाइट (50-60 डिग्री सेल्सियस) के तापमान पर गर्म कर सकते हैं। गाढ़ी चीनी की चाशनी में 2 भाग चीनी और 1 भाग पानी होता है। शहद के एकत्रण और संग्रहण के दौरान कालोनियों को गाढ़ी चीनी की चाशनी नहीं खिलानी चाहिए। आमतौर पर, बसंत और गर्मी के दौरान पतली चीनी की चाशनी प्रयोग की जाती है, जबकि सर्दी में छत्ते को तैयार करने के उपाय के रूप में, पतझड़ के अंत समय के दौरान गाढ़ी चीनी का प्रयोग किया जाता है। कई मधुमक्खी पालक 2 भाग चीनी और 1 भाग पानी के मिश्रण के साथ थाइम के वाष्पशील तेलों का भी प्रयोग करते हैं (स्थानीय विशेषज्ञों से पूछें)। चीनी की चाशनी को अक्सर छिछली थालियों में रखा जाता है, साथ ही इसमें छोटी-छोटी लकड़ियों के टुकड़े डाले जाते हैं। हम ऐसा इसलिए करते हैं ताकि मधुमक्खियां लकड़ी के तैरते हुए टुकड़ों पर बैठकर डूबे बिना चाशनी पी सकें।

अन्य मधुमक्खी पालक विशेष कलाकंद और शुगर पाई का प्रयोग करते हैं। कृपया इस बात का ध्यान रखें कि इन चाशनियों और कलकंदों को छत्तों के अंदर ध्यानपूर्वक डाला जाना चाहिए, क्योंकि ये अन्य कीड़ों और जानवरों को भी आकर्षित कर सकते हैं। कुछ मधुमक्खी पालक बताते हैं कि दुर्लभ मामलों में वो सर्दियों के दौरान मधुमक्खियों को भूखे मरने से बचाने के अंतिम उपाय के रूप में, छत्ते के अंदर 5 पाउंड (2.2 किलो) दानेदार चीनी डाल देते हैं। कनाडा में, जहाँ तापमान अक्सर -22 डिग्री फॉरेनहाइट (-30 डिग्री सेल्सियस) के नीचे चला जाता है, ऐसी स्थिति में कुछ मधुमक्खी पालक 50 पाउंड (22 किग्रा) चीनी छत्ते के अंदर डाल देते हैं। कृपया ध्यान रखें, अतिरिक्त पदार्थों वाली चीनी से पेचिश हो सकता है। 5 फ्रेम वाले कमजोर छत्ते के लिए, सर्दी के दौरान लगभग 3 पाउंड (1.3 किग्रा) भोजन 2 सप्ताह के लिए पर्याप्त होता है। पराग भी आवश्यक है, इसलिए यदि छत्ते में इसकी पर्याप्त मात्रा नहीं होती तो कई मधुमक्खी पालक पराग के पाउडर के साथ कैंडी के मिश्रण का प्रयोग करते हैं। हालाँकि प्राकृतिक पराग सर्वश्रेष्ठ होता है, लेकिन विशेष दुकानों में आपको अच्छे दामों पर पराग का विकल्प मिल सकता है। ये अक्सर सोया के आटे, शराब के खमीर, शुष्क दूध और विटामिन सी से बने होते हैं।

इस बात को भी हमेशा ध्यान में रखें कि मधुमक्खियों को जीवित रहने के लिए और विकसित होने के लिए निरंतर ताज़े और स्वच्छ पानी की जरुरत होती है। इसलिए, आपके द्वारा चयनित स्थान के आसपास प्राकृतिक या कृत्रिम पानी का स्रोत होना जरुरी है। ज्यादातर मधुमक्खी पालक पानी की बाल्टियों के अंदर लकड़ी या दूसरे पदार्थ के छोटे-छोटे टुकड़े डालते हैं, ताकि मधुमक्खियां पानी में डूबे बिना तैरते हुए टुकड़ों पर बैठकर पानी पी सकें।

आप अपनी मधुमक्खियों को खिलाने के तरीकों के बारे में टिप्पणी प्रदान करके या तस्वीर डालकर इस लेख को ज्यादा बेहतर बना सकते हैं।

नए लोगों के लिए मधुमक्खी पालन

शहद निर्माण करने वाली मधुमक्खियों की समाज संरचना और संगठन

मधुमक्खियों द्वारा शहद कैसे बनाया जाता है

छत्ता और आवश्यक उपकरण

छत्ते की स्थिति और स्थान नियोजन

मधुमक्खियों को कैसे खिलाएं

मधुमक्खियों के छत्ता छोड़ने की गतिविधि को समझना और नियंत्रित करना

सर्दियों के लिए छत्ते तैयार करना

शहद का संग्रह

मधुमक्खियों की सामान्य बीमारियां और कीट

प्रमुख मधुमक्खी कीट

मधुमक्खियों की प्रमुख बीमारियां

कीटनाशकों से मधुमक्खियों में विषाक्तता

मधुमक्खियों से संबंधित प्रश्न और उत्तर

क्या आपके पास मधुमक्खी पालन का अनुभव है? यदि हाँ तो कृपया नीचे टिप्पणियों में अपने अनुभव, विधियों और कार्यप्रणालियों के बारे में बताएं।

आपके द्वारा जोड़ी गयी सभी सामग्रियों को जल्दी से जल्दी हमारे कृषि विशेषज्ञों द्वारा जांचा जायेगा। और स्वीकृत होने के बाद, उन्हें Wikifarmer.com पर डाल दिया जायेगा, जिससे दुनिया भर के हज़ारों नए और अनुभवी किसान सकारात्मक रूप से प्रभावित होंगे।

यह लेख निम्नलिखित भाषाओं में भी उपलब्ध है: enEnglish esEspañol frFrançais arالعربية pt-brPortuguês deDeutsch ruРусский elΕλληνικα trTürkçe viTiếng Việt idIndonesia

Wikifarmer की संपादकीय टीम
Wikifarmer की संपादकीय टीम

Wikifarmer सबसे बड़ा ऑनलाइन कृषि पुस्तकालय है जो इसके प्रयोगकर्ताओं द्वारा निर्मित और अपडेट किया जाता है। यहाँ आप नया लेख जमा कर सकते हैं, पहले से मौजूद लेख को संपादित कर सकते हैं, छवियां और वीडियो जोड़ सकते हैं या सैकड़ों आधुनिक कृषि विकास मार्गदर्शकों की मुफ्त उपलब्धता का आनंद उठा सकते हैं। इस वेबसाइट पर प्रदान की जाने वाली किसी भी जानकारी के प्रयोग, मूल्यांकन, आकलन और उपयोगिता के संबंध में सारा उत्तरदायित्व प्रयोगकर्ता का होता है।

Wikifarmer सबसे बड़ा ऑनलाइन कृषि पुस्तकालय है जो इसके प्रयोगकर्ताओं द्वारा निर्मित और अपडेट किया जाता है। यहाँ आप नया लेख जमा कर सकते हैं, पहले से मौजूद लेख को संपादित कर सकते हैं, छवियां और वीडियो जोड़ सकते हैं या सैकड़ों आधुनिक कृषि विकास मार्गदर्शकों की मुफ्त उपलब्धता का आनंद उठा सकते हैं। इस वेबसाइट पर प्रदान की जाने वाली किसी भी जानकारी के प्रयोग, मूल्यांकन, आकलन और उपयोगिता के संबंध में सारा उत्तरदायित्व प्रयोगकर्ता का होता है।

FOLLOW US ON