पेटूनिया फ्लावर इन हिंदी

पेटूनिया (पेटूनिया x हायब्रिडा) सोलैनेसी कुल (टमाटर, आलू, धतूरे और कई अन्य प्रजातियों का कुल) का सदस्य है। हालाँकि, कुछ पेटूनिया सदाबहार हो सकते हैं, लेकिन आमतौर पर, आजकल जिन संकर प्रजातियों का उत्पादन किया जाता है और बेचा जाता है, वो ज्यादातर वार्षिक पौधे होते हैं।

अपने सुंदर रंगीन तुरही के आकार के फूलों के कारण पेटूनिया बहुत मशहूर फूल है। इसकी पत्तियां रोयेंदार और शाखाओं वाली होती हैं। इस पौधे को धूप वाली जगह पसंद है। इसी कारण से, यह संयुक्त राज्य अमेरिका और सभी भूमध्यसागरीय देशों में बहुत प्रसिद्ध है। यह वसंत ऋतु से शरद ऋतु तक खिलता है और इसके फूल दुनिया में सबसे ज्यादा आसानी से पहचाने जाने वाले फूलों में से एक हैं।

पौधे की किस्म के आधार पर, हमें कई अलग-अलग प्रकार, लम्बाई, और रंगों के पेटूनिया मिल सकते हैं। जैसे, एक या दो बार फूलने वाला पेटूनिया, एक रंग वाला, एक समान या बिखरे हुए रंगों वाला पेटूनिया। इसके रंगों की व्यापक श्रृंखला में हम लाल, सफेद, गुलाबी, बैंगनी, हल्का नीला, पीला और लगभग सभी रंगों के फूल देख सकते हैं। काले पेटूनिया की पंखुड़ियां देखने लायक होती हैं!

पेटूनिया में इतनी व्यापक विविधता होने का कारण यह है कि वर्षों के समय में, वैज्ञानिकों ने विभिन्न तरीकों का विकास किया है, जैसे वायरस संक्रमण, जिसकी वजह से इसकी पंखुड़ियों पर विभिन्न प्रकार के रंग उभरकर आते हैं। इन विधियों के प्रयोग से, लगभग हर एक उत्पादक रंगों का अपना खुद का संयोजन बना सकता है।

सबसे प्रसिद्ध प्रजातियों में से कुछ प्रजातियां हैं, पेटूनिया ग्रैंडिफ़्लोरा, पेटूनिया मिलिफ़्लोरा और पेटूनिया मल्टीफ़्लोरा।

  • पेटूनिया ग्रैंडिफ़्लोरा, में सबसे बड़े फूल आते हैं, जिनकी लंबाई 40 (16 इंच) तक हो सकती है। हालाँकि, इस श्रेणी में हमें इसकी लटकने वाली किस्में भी मिल सकती हैं। आमतौर पर, इसके सुंदर लहरदार फूलों को बारिश और हवा से बचाने की जरूरत होती है।
  • पेटूनिया मिलिफ़्लोरा, में सबसे छोटे फूल आते हैं। पेटूनिया मिलिफ़्लोरा की लंबाई 25 सेमी (10 इंच) से ज्यादा नहीं पहुंचती है। ग्रैंडिफ़्लोरा के विपरीत, इस पौधे को बारिश से कम बचाना पड़ता है। यहाँ हमें लटकने वाले प्रकारों के साथ-साथ क्षैतिज रूप से उगने वाले प्रकार भी मिल सकते हैं, जो मेड़ पर लगाने के लिए उपयुक्त होते हैं।
  • पेटूनिया मल्टीफ़्लोरा, में पेटूनिया ग्रैंडिफ़्लोरा से छोटे, लेकिन पेटूनिया मिलिफ़्लोरा से बड़े फूल आते हैं।

आप चाहे जो भी प्रकार चुनें, इस बात का ध्यान रखिये कि इन पौधों को धूप वाली जगह पर रखना जरूरी होता है। सीधे धूप में रखने से फूलों का रंग बहुत गहरा और चमकदार आता है।

यह लेख निम्नलिखित भाषाओं में भी उपलब्ध है: English Español Français Deutsch Nederlands العربية Türkçe 简体中文 Русский Italiano Ελληνικά Português Indonesia 한국어

हमारे साझेदार

हमने दुनिया भर के गैर-सरकारी संगठनों, विश्वविद्यालयों और अन्य संगठनों के साथ मिलकर हमारे आम लक्ष्य - संधारणीयता और मानव कल्याण - को पूरा करने की ठानी है।

हमारे न्यूजलेटर की सदस्यता लें!

इस फॉर्म को सबमिट करके आप विकिफार्मर से ईमेल न्यूज़लेटर्स प्राप्त करने के लिए सहमत होते हैं।

आपने सफलतापूर्वक न्यूजलेटर की सदस्यता ले ली है!

आपका अनुरोध भेजने का प्रयास करते समय एक त्रुटि हुई थी। कृपया पुन: प्रयास करें।