घोड़े को चारा कैसे खिलाएं – घोड़े का भोजन

How to feed horses - What do horses eat

जहाँ तक घोड़ों को खिलाने की बात आती है, यहाँ पर भी “घास और व्यावसायिक चारे” का प्रसिद्ध विवाद मौजूद है। यह सच है कि घोड़ों (जिन्हें अब गाय, सूअर, बकरी और अन्य जानवरों की तरह पाला जाता है) ने जंगलों में केवल घास खाकर और पानी पीकर सदियों तक अपना जीवन व्यतीत किया है। लेकिन, जंगल में घोड़े का जीवनकाल उससे कहीं कम होता है जितना कि हम अपने घोड़े के लिए चाहते हैं। इसके अतिरिक्त, कुछ जानवरों (बूढ़े, मेहनती, युवा आदि) के लिए ज्यादा प्रोटीन (और/या विटामिन) की जरुरत होती है, जो केवल व्यावसायिक चारों में मिलता है। सभी मामलों में, घोड़ों के पास 24 घंटे ताज़ा पानी और घास मौजूद होना चाहिए।

एक घोड़ा प्रतिदिन अपने शरीर के वजन का 1% से ज्यादा घास खा सकता है। यदि आपके पास केवल युवा और पुष्ट घोड़े हैं और यदि आपके मैदान में वर्ष भर विभिन्न प्रकार का चारा उगता है तो आप अपने घोड़े के पोषण को ताज़ा और सूखी घास पर आधारित कर सकते हैं और व्यावसायिक चारे पर हज़ारों डॉलर खर्च करने से बच सकते हैं। चारे से हमारा अर्थ पौधों की प्रजातियों की एक व्यापक श्रृंखला से है, जैसे: घास, दूब, अल्फल्फा (मेडिकागो सैटिव), लोलियम, फलियां, ब्रासिका आदि। टिमोथी, अल्फाल्फा और ट्राइफोलियम अलेक्जेंड्रिनम (ताज़ा या सूखी घास के रूप में) घोड़ों के पोषण के लिए अच्छा आहार हैं। सोरगम प्रजातियां घोड़ों के लिए विषाक्त होती हैं और इनसे बचना चाहिए। घोड़े पालने वाले व्यक्ति को स्थानीय रूप से पाए जाने वाले पौधों के बारे में अच्छी तरह से शोध करना होगा जो घोड़ों के लिए जहरीले हो सकते हैं।

उपरोक्त वर्णित नियम सामान्य हैं और ज्यादातर स्वस्थ घोड़ों पर लागू होते हैं। लेकिन, कोई भी दो घोड़े समान नहीं होते, और ना ही उनकी शारीरिक क्षमता और आवश्यकताएं समान होती हैं। उदाहरण के लिए, बूढ़े घोड़ों को अक्सर दांत और/या गतिशीलता से संबंधित समस्याएं होती हैं। इसलिए, वे अपने खाने की तलाश में दिन के 15 घंटे नहीं घूम सकते हैं। इसलिए, हमारे पास विभिन्न प्रकार के व्यावसायिक चारों का भंडार होना चाहिए। घोड़ों के पोषण को पूरा करने के लिए भूसी, चुकंदर, पेलेट मिक्स (पेलेट, फ्लैक्स, मक्का), जई, बाजरा, कटी हुई घास और विटामिन का प्रयोग किया जाता है। अनाज ज्यादातर तब प्रयोग किये जाते हैं जब हम घोड़ों का वजन बढ़ाना चाहते हैं। हालाँकि, थोड़ी मात्रा में अनाज अच्छा काम करता है, लेकिन, हमें सतर्क रहना चाहिए, क्योंकि इसकी अत्यधिक मात्रा से जानलेवा परिस्थितियां उत्पन्न हो सकती हैं। नियमानुसार, बड़े, स्वस्थ और पुष्ट घोड़े सूखी घास और चारा खा सकते हैं, जबकि बूढ़े, चोटिल और परिश्रमी घोड़ों के लिए ज्यादा प्रोटीन और विटामिन की जरुरत पड़ती है।

 

यदि हमारा घोड़ा भारी काम करता है या बूढ़ा है तो हम उसे व्यावसायिक मिश्रित चारे भी खिला सकते हैं, जिसमें प्रोटीन की उच्च मात्रा मौजूद होती है।

कटी हुई घास के उत्पादों को अक्सर दांत की समस्याओं वाले बूढ़े जानवरों को प्रदान किया जाता है।

जौ के भूसे में बहुत कम प्रोटीन (लगभग 5%) और बहुत ज्यादा मात्रा में फाइबर मौजूद होता है।

ट्राइफोलियम अलेक्जेंड्रिनम और अन्य संबंधित पौधों वाले खेत की पहली कटाई भी फाइबर का बहुत अच्छा स्रोत है।

जई की घास भी बड़े घोड़ों और घोड़ियों की प्रारंभिक गर्भावस्था के समय के लिए उपयुक्त चारा है। बॉब कोलेमन के अनुसार, घोड़े के मालिकों को नाइट्रेट के स्तरों का पता लगाने के लिए जई की घास का परीक्षण करना चाहिए ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके की चारा सुरक्षित है। घोड़ों के कुल आहार में नाइट्रेट का स्तर 0.5% से ज्यादा नहीं होना चाहिए।

सामान्यतः, घोड़े के पेट का आकार इसके बड़े आकार की तुलना में काफी छोटा है। इसलिए, घोड़ों को निरंतर लेकिन संयमित मात्रा में खाने की थोड़ी-थोड़ी खुराक प्रदान करनी चाहिए, ताकि वे दिन भर में 2-3 बार ज्यादा खाने के बजाय अपनी गति के अनुसार थोड़ा और समय-समय पर खा सकें। हालाँकि, इस बात को ध्यान में रखें कि कठोर कसरत से तुरंत पहले और तुरंत बाद (उदाहरण एक लिए सवारी), आपको घोड़े को खाने नहीं देना चाहिए, क्योंकि इसकी वजह से उनको कोलिक हो सकता है।

अंत में, अक्सर घोड़े के मालिक घोड़े के स्थान के अंदर नमक के टुकड़े रखते हैं। इस तरह, घोड़ा अपनी इच्छानुसार नमक चाटकर अपनी सोडियम और क्लोराइड की जरूरतों को पूरा कर सकता है। लेकिन, इस बात को ध्यान में रखें कि कई नमक के टुकड़े खनिज युक्त होते हैं। जिनमें अन्य खनिज भी मौजूद हो सकते हैं। घोड़ों को उनमें से ज्यादातर खनिज की पर्याप्त मात्रा अपने व्यावसायिक चारे या विटामिन पूरकों से मिल जाती है। इसलिए आप अपने घोड़ों को नमक के टुकड़े प्रदान करने के बारे में अपने स्थानीय पशु चिकित्सक से अपने घोड़े के आहार के बारे में चर्चा कर सकते हैं।

पहली बार उचित वार्षिक आहार योजना बनाने के लिए और क्षेत्र में सामान्य तौर पर पाए जाने वाले जहरीले पौधों और झाड़ियों के बारे में जानने के लिए घोड़े के मालिक को स्थानीय विशेषज्ञों, स्थानीय पशु चिकित्सकों और/या कृषि वैज्ञानिकों से परामर्श लेना चाहिए। कई मामलों में, क्षेत्र की वनस्पति और मौसमी स्थितियां अंतिम समीकरण के लिए महत्वपूर्ण पैमाने होते हैं। पशु चिकित्सक और घोड़े के मालिक को घोड़े के शरीर और दांत की स्थिति का भी निरीक्षण करना चाहिए। लाइसेंस-प्राप्त पशु चिकित्सक के निरीक्षण में, पालनकर्ता घोड़े के आहार कार्यक्रमों में कुछ विटामिन भी शामिल कर सकते हैं।

विशेष रूप से यदि आपके पास अलग-अलग उम्र के, विभिन्न पृष्ठभूमि, विभिन्न आवश्यकताओं वाले 3-4 से ज्यादा घोड़े, जिनमें से कुछ को दांत की समस्याएं आदि हैं तो घोड़ों को प्रतिदिन खिलाना बहुत मुश्किल काम हो सकता है। यदि आप केवल अपनी अच्छी स्मृति पर निर्भर रहते हैं, और ध्यान दिए बिना उन्हें दिल से खिलाते हैं तो जल्दी ही आप प्रत्येक घोड़े के दैनिक आहार कार्यक्रम के संबंध में उलझ जायेंगे। हम आपको उस स्थान पर एक श्यामपट लगाने का सुझाव देते हैं जहाँ आप अपने घोड़ों का आहार मिलाते और तैयार करते हैं। अपने सभी घोड़ों के नाम और प्रत्येक चारे की मात्रा वाले स्तंभों के साथ सारणी बनाने से यह सुनिश्चित होता है कि आप प्रत्येक घोड़े की दैनिक और साप्ताहिक आहार योजना का हमेशा निरीक्षण कर पाएंगे।

हालाँकि यह उबाऊ और समय की बर्बादी लग सकता है, लेकिन ऐसे नोट रखना कई मामलों में बहुत उपयोगी सिद्ध हो सकता है। घोड़े के लिए कोई भी चिंताजनक लक्षण उत्पन्न होने पर, पशु चिकित्सक घोड़े के पिछले 3 या 4 दिनों के आहार के बारे पूछते हैं। उस स्थिति में, आपको बहुत सावधान रहना पड़ता है और खाने के प्रकार, सामग्रियों और सही मात्रा के बारे में विश्लेषणात्मक जानकारी देनी पड़ती है, ताकि सही निदान करने के लिए पशु चिकित्सक के पास सभी आवश्यक डेटा मौजूद हो। आप मवेशियों के लिए जहरीली पौधों के बारे में और अधिक पढ़ सकते हैं।

आप अपने घोड़े की आहार योजना और खाने के प्रकारों के बारे में टिप्पणी या तस्वीर प्रदान करके इस लेख को ज्यादा बेहतर बना सकते हैं।

घोड़ा पालन का परिचय

घोड़ों को कैसे रखें और उनके स्थान का निर्माण कैसे करें

घोड़े का चुनाव करना

घोड़े को चारा कैसे खिलाएं – घोड़े का भोजन

घोड़ों का स्वास्थ्य, सुरक्षा और देखभाल

घोड़े का अपशिष्ट और खाद प्रबंधन

घोड़ों से संबंधित प्रश्न और उत्तर

क्या आपको घोड़े पालने का अनुभव है? यदि हाँ तो कृपया नीचे टिप्पणियों में अपने अनुभव, विधियों और कार्यप्रणालियों के बारे में बताएं।

आपके द्वारा जोड़ी गयी सभी सामग्रियों को जल्दी से जल्दी हमारे कृषि विशेषज्ञों द्वारा जांचा जायेगा। और स्वीकृत होने के बाद, उन्हें Wikifarmer.com पर डाल दिया जायेगा, जिससे दुनिया भर के हज़ारों नए और अनुभवी किसान सकारात्मक रूप से प्रभावित होंगे।

यह लेख निम्नलिखित भाषाओं में भी उपलब्ध है: enEnglish esEspañol frFrançais arالعربية pt-brPortuguês deDeutsch ruРусский elΕλληνικα trTürkçe viTiếng Việt idIndonesia

Wikifarmer की संपादकीय टीम
Wikifarmer की संपादकीय टीम

Wikifarmer सबसे बड़ा ऑनलाइन कृषि पुस्तकालय है जो इसके प्रयोगकर्ताओं द्वारा निर्मित और अपडेट किया जाता है। यहाँ आप नया लेख जमा कर सकते हैं, पहले से मौजूद लेख को संपादित कर सकते हैं, छवियां और वीडियो जोड़ सकते हैं या सैकड़ों आधुनिक कृषि विकास मार्गदर्शकों की मुफ्त उपलब्धता का आनंद उठा सकते हैं। इस वेबसाइट पर प्रदान की जाने वाली किसी भी जानकारी के प्रयोग, मूल्यांकन, आकलन और उपयोगिता के संबंध में सारा उत्तरदायित्व प्रयोगकर्ता का होता है।

Follow Us

Wikifarmer सबसे बड़ा ऑनलाइन कृषि पुस्तकालय है जो इसके प्रयोगकर्ताओं द्वारा निर्मित और अपडेट किया जाता है। यहाँ आप नया लेख जमा कर सकते हैं, पहले से मौजूद लेख को संपादित कर सकते हैं, छवियां और वीडियो जोड़ सकते हैं या सैकड़ों आधुनिक कृषि विकास मार्गदर्शकों की मुफ्त उपलब्धता का आनंद उठा सकते हैं। इस वेबसाइट पर प्रदान की जाने वाली किसी भी जानकारी के प्रयोग, मूल्यांकन, आकलन और उपयोगिता के संबंध में सारा उत्तरदायित्व प्रयोगकर्ता का होता है।

FOLLOW US ON